M. g shreekumar - Soja soja chandni

औ औ औ औ औ औ औ औ औ औ औ


सो जा सो जा चाँदनी
चाँद सितारे सो रहे
मैं जागू नादिया जागे पंख पखेरू सो रहे
सो जा सो जा चाँदनी

पाट भी ज़रा सा खुला था दिल का
क...

Lyrics licensed by LyricFind