S.P. Balasubrahmanyam - मेरे रंग में रंगने वाली

मेरे रंग में रंगने वाली
परी हो या हो परियों की रानी
या हो मेरी प्रेम कहानी
मेरे सवालों का जवाब दो
दो ना
मेरे रंग में रंगने वाली
परी हो या हो परियों की रानी
या हो मेरी प्रेम कहानी
मेरे सवालों का जवाब दो
दो ना

तु रु रु रु रु रु रु
तु रु रु रु रु
रु रु रु रु रु रु रु रु
दु रु रु रु रु

बोलो न क्यूं ये चाँद सितारे
तकते हैं यूँ मुखड़े को तुम्हारे
बोलो न क्यूं ये चाँद सितारे
तकते हैं यूँ मुखड़े को तुम्हारे
छूके बदन को हवा क्यूं महकी
रात भी है क्यूं बहकी बहकी
मेरे सवालों का जवाब दो
दो ना


क्यूं हो तुम शरमाई हुई सी
लगती हो कुछ घबराई हुई सी
ओ क्यूं हो तुम शरमाई हुई सी
लगती हो कुछ घबराई हुई सी
ढलका हुआ सा आँचल क्यूं है
ये मेरे दिल में हलचल क्यूं है
मेरे सवालों का जवाब दो
दो ना

तू रु रु तू तू रु रु तू

दोनो तरफ़ बेनाम सी उलझन
जैसे मिले हों दुल्हा दुल्हन
हा हा हा दोनो तरफ़ बेनाम सी उलझन
जैसे मिले हों दुल्हा दुल्हन
दोनो की ऐसी हालत क्यूं है
आखिर इतनी मुहब्बत क्यूं है
मेरे सवालों का जवाब दो
दो ना
मेरे रंग में रंगने वाली
परी हो या हो परियों की रानी
या हो मेरी प्रेम कहानी
मेरे सवालों का जवाब दो

Lyrics licensed by LyricFind